Lok Sabha Election 2019 : Kanpur Lok Sabha सीट से Congress प्रत्याशी श्रीप्रकाश जायसवाल ने समर्थकों के भारी हुजूम के साथ बुधवार दोपहर अपना नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान शहर कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की भीड़ साथ-साथ मौजूद रही। लंबे समय से "कोमा" में पड़ी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का जोश देखने लायक था। “प्रियंका नहीं ये आंधी है, देश की दूसरी इंदिरा गांधी है” “अबकी बार, कांग्रेस का बेड़ा पार”"चौकीदार चोर है" के नारे लगाते हुए कार्यकर्ताओं की भीड़ जब कलेक्ट्रेट पहुंची तो पुलिस बल ने सभी को बैरीकेडिंग के पास ही रोक दिया। प्रत्याशी श्रीप्रकाश जायसवाल के साथ सिर्फ उनके प्रस्तावक और अनुमोदक ही जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में प्रवेश पा सके। उल्लेखनीय है कि श्रीप्रकाश जायसवाल कानपुर की लोकसभा सीट से तीन बार चुनाव जीत चुके हैं। 2014 की मोदी लहर में उन्हें बीजेपी के मुरली मनोहर जोशी ने करीब ढाई लाख वोटों से हराया था।


[caption id="attachment_19209" align="alignnone" width="729"] शरीर पर "चौकीदार चोर है" लिखकर श्रीप्रकाश के नामांकन जुलूस में पहुंचा कार्यकर्ता।[/caption]

वहीं, श्रीप्रकाश के नामांकन जुलूस में पूर्व विधायक अजय कपूर और उनके समर्थक नहीं पहुंचे। नामांकन में न पहुंचने वाले कार्यकर्ता एक होटल में पूर्व विधायक अजय कपूर की मौजूदगी में मीटिंग करते रहे। हालांकि शीर्ष नेतृत्व की किसी भी कार्यवाही से बचने के लिए इस मीटिंग को "होली मिलन" का नाम दिया गया।


[caption id="attachment_19208" align="alignnone" width="695"] नामांकन कराने से पहले कांग्रेस के तिलक हाल में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ मौजूद श्रीप्रकाश ने मीडिया से भी बातचीत की।[/caption]

YOGESH TRIPATHI


श्रीप्रकाश के जुलूस में सभी धर्मों के लोग पहुंचे


कांग्रेस प्रत्याशी का जुलूस तिलकहाल से बुधवार की दोपहर को उठा। इस दौरान सभी धर्मों और संप्रदाय के लोगों की मौजूदगी बनी रही। महिला कार्यकर्ताओं की संख्या भी कम नहीं थी। कांग्रेस नेत्री ममता तिवारी के साथ दर्जनों महिलाएं जुलूस में शामिल हुईं। शहर के हर वार्ड से कांग्रेसी कार्यकर्ता श्रीप्रकाश जायसवाल के जुलूस में शामिल हुए। इस दौरान जब श्रीप्रकाश का जुलूस बड़े चौराहे पर पहुंचा तो भारी भीड़ की वजह से थोड़ी देर के लिए ट्रैफिक व्यवस्था धड़ाम हो गई। हालांकि कार्यकर्ता श्रीप्रकाश जिंदाबाद के नारे लगाते हुए आगे बढ़ते रहे।

[caption id="attachment_19210" align="aligncenter" width="566"] कानपुर से कांग्रेस प्रत्याशी श्रीप्रकाश जायसवाल में पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला भी मौजूद रहे।[/caption]

कांग्रेस के ये दिग्गज रहे श्रीप्रकाश के जुलूस में मौजूद


कांग्रेस प्रत्याशी के जुलूस में पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ पत्रकार राजीव शुक्ला, आलोक मिश्रा, शहर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री, छावनी विधायक सोहेल अंसारी, पूर्व संजीव दरियाबादी, कानपुर देहात के पूर्व अध्यक्ष रामेंद्र सिंह मुन्ना, सुनीत त्रिपाठी, शरद मिश्रा, ममता तिवारी, संदीप शुक्ला, के.के तिवारी, गौरव पांडेय प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

[caption id="attachment_19215" align="alignnone" width="834"] कांग्रेस प्रत्याशी श्रीप्रकाश के नामांकन जुलूस में शामिल आलोक मिश्रा, राजीव शुक्ला और कांग्रेस नेत्री ममता तिवारी।[/caption]

पूर्व विधायक अजय कपूर और उनके समर्थक रहे नदारद


श्रीप्रकाश के नामांकन जुलूस में किदवईनगर के पूर्व विधायक अजय कपूर और उनके सैकड़ों समर्थक नहीं पहुंचे। अजय गुट से एक पार्षद ही श्रीप्रकाश के समर्थन में पहुंचे। जबकि बाकी लोग नदारद रहे। कई कार्यकर्ता भी नहीं पहुंचे। कुछ वार्डों के पदाधिकारी भी नामांकन जुलूस में नहीं शामिल हुए।

 होली मिलन के बहाने होटल में अजय कपूर की मीटिंग


बहाना तो होली मिलन का था लेकिन निशाना श्रीप्रकाश पर था। जी, हां साउथ सिटी स्थित एक होटल में कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे। सभी ने अपनी-अपनी बातें रखीं। कुछ ने खुलकर श्रीप्रकाश का समर्थन किया तो कई ने कहा कि हम तो नहीं लड़ाएंगे। मीटिंग में मौजूद कार्यकर्ताओं की मानें तो होटल में उपस्थित करीब 25 फीसदी कार्यकर्ता दक्षिण के श्रीप्रकाश के समर्थन में रहे लेकिन 75 फीसदी कार्यकर्ताओं ने अजय कपूर का साथ देने की बात कही।

कार्यकर्ताओं से लिखित राय मांगी गई


मीटिंग के दौरान जब कोई रिजल्ट नहीं निकला तो कार्यकर्ताओं से कहा गया कि सभी लोग अपनी लिखित राय दो दिन के अंदर दें ताकि कोई फैसला लिया जाए। सूत्रों की मानें तो पूरे चुनाव के दौरान इस तरह की अभी दो से तीन मीटिंग और होनी तय मानी जा रही है। विश्वास पात्र सूत्रों की मानें तो दक्षिण के कई कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता श्रीप्रकाश को चुनाव बिल्कुल भी नहीं लड़ाएंगे। www.redeyestimes.com (News Portal) के पास जो जानकारियां हैं उसके मुताबिक ये कार्यकर्ता बीजेपी प्रत्याशी सत्यदेव पचौरी को ही चुनाव लड़वाएंगे। कुछ कार्यकर्ता बाहर से श्रीप्रकाश और अंदरखाने से बीजेपी प्रत्याशी को चुनाव लड़ाएंगे।

 

 

 
Axact

Axact

Vestibulum bibendum felis sit amet dolor auctor molestie. In dignissim eget nibh id dapibus. Fusce et suscipit orci. Aliquam sit amet urna lorem. Duis eu imperdiet nunc, non imperdiet libero.

Post A Comment:

2 comments:

  1. अरविंद त्रिपाठी3 अप्रैल 2019 को 6:18 am

    कुछ भाजपा नेता भी ऊपर से पचौरी और अंदर से श्रीप्रकाश को चुनाव लड़ाएँगे।
    यही राजनीति है।
    कांग्रेस के इन दगे कारतूसों की अपेक्षा भाजपाई असंतुष्ट अधिक बड़े जनधार के नेता हैं।

    जवाब देंहटाएं
  2. बिल्कुल सत्य वजन, लेकिन ये खबर सत्यदेव पचौरी का नामांकन दाखिल होने के बाद ब्रेक करेंगे। हौसला अफजाई के लिए शुक्रिया आपका।

    जवाब देंहटाएं