TRENDING NOW

-AIMIM ने "सर तन से जुदा" के लगाए पोस्टर 

-Photo Viral होते ही Police ने होर्डिंग को हटवाया
Yogesh Tripathi

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिम(AIMIM) की Kanpur Unit की तरफ से शहर में लगाई गई विवादित होर्डिंग्स को Commissionerate Police (Kanpur Nagar) त्वरित कार्रवाई करते हुए हटवा दिया। पोस्टर में पैगंबर मुहम्मद पर अपनी टिप्पणी के लिए डासना देवी मंदिर के प्रमुख पुजारी नरसिंहानंद सरस्वती को मुखाग्नि देने के लिए आग लगाने वाले "सर तन से जुदा" पोस्टर लगाए गए थे।
Kanpur में लगे विवादित होर्डिंग्स में यति नरसिंहानंद सरस्वती का सिर उनके शरीर से अलग दिखा। नरसिंहानंद सरस्वती के साथ पोस्टर में उत्तर प्रदेश में शिया सेंट्रल बोर्ड ऑफ वक्फ के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिज़वी की विवादित फोटो भी दिखाई दी। 
इसी तरह के कुछ और घृणित पोस्टर की Photo जब सोशल मीडिया के प्लेटफार्म Twitter पर Viral हुई तो Commissionerate Police (Kanpur Nagar) तुरंत Active हो गई। Police ने विवादित होर्डिंग्स को तुरंत हटवाने के बाद Twitter पर जानकारी भी साझा की। FIR रजिस्टर्ड कर Police फिलहाल पूरे मामले की गहराई से पड़ताल कर रही है। खुफिया एजेंसियां भी देर शाम तक अपने स्तर पर छानबीन कर जानकारी जुटाने में लगीं रहीं।
खास बात ये रही कि महज कुछ घंटे में ही विवादित होर्डिंग्स की फोटो के साथ AIMIM Trend करने लगा। 20K से अधिक Tweets लोगों ने किए। तमाम लोगों ने Tweet कर AIMIM को बैन करने की मांग भी की। 

 

(Nandini Agnihotri)

आजाद नारी……

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की,

 

परिभाषा है नारी,

 

स्वयं को परिभाषित करती है नारी,

 

कोमल मन है उसका, हॄदय प्रेम से भरा हुआ,

 

त्याग और ममता की, मूरत है नारी,

 

जब बात स्वंय पे आती है,

 

काली बन जाती है नारी।

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की

 

परिभाषा है नारी .......

 

स्वयं को स्वंय से,  स्थापित करती है नारी ,

 

पूरे परिवार की पूरक ,बन जाती है नारी,

 

हर कठिन परिस्थितियों में,

 

स्वयं को परिभाषित करती है नारी,

 

अद्धभुत अदम्य साहस की

 

परिभाषा है नारी............

 

जब कोई मुश्किल आये, चट्टानों सी अड़ जाती है नारी,

 

अपना आत्मसम्मान बचाने को,

 

संसार के आगे भी भिड़ जाती हैं नारी,

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की,

 

परिभाषा है नारी ......

 

कभी आसमान में उड़ती,

 

कभी सीमा पर खड़ी हो जाती हैं,

 

जल,थल, आकाश में  छा जाती हैं नारी,

 

स्वयं का स्वंय से परिचय

 

करवाती हैं  नारी,

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की

 

परिभाषा है नारी........

 

उत्साह भरा भरपूर उसमें ,पूरा कर लक्ष्य को,

 

अपने मन में, मुस्कुराती है नारी,

 

अपनी पहचान बनाकर,

 

स्वयं स्थापित कर जाती है नारी,

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की

 

परिभाषा है नारी........

 

घर की दहलीज से निकल 

 

सीमा प्रहरी बन जाती है नारी,

 

देश की रक्षा करती हैं नारी,

 

देश का गौरव बन जाती है नारी,

 

अपनी अलग पहचान बनाती है,

 

अद्धभुत, अदम्य साहस की

 

परिभाषा है ......

 


-मुख्तार को लेकर बुधवार 4.30 AM पर पहुंचा पुलिस का काफिला

-बैरक नंबर 15 में Mukhtar Ansari को किया गया शिफ्ट

-सुबह तीन बजे Kanpur के घाटमपुर से निकला काफिला


Yogesh Tripathi

Uttar Pradesh का बाहुबली माफिया डॉन और BSP (MLA) मुख्तार अंसारी का काफिला बुधवार सुबह 4.30 AM पर बांदा जेल पहुंच गया। Mukhtar Ansari को जेल की 15 नंबर बैरक में शिफ्ट किया गया है। तनाव की वजह से मुख्तार अंसारी का ब्लड प्रेशर काफी बढ़ा हुआ है। चिकित्सकों की टीम बराबर उसकी निगरानी कर रही है। मुख्तार अंसारी के Entry के बाद बांदा जेल को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। इससे पहले सुबह करीब तीन बजे मुख्तार का काफिला Kanpur के घाटमपुर से निकला तो यहां पुलिस के अधिकारी Alert हो गए। 


मुख्तार अंसारी को पंजाब की रोपड़ जेल से लाने की जिम्मेदारी ADG प्रेम प्रकाश को सौंपी गई थी। उनकी अगुवाई में पुलिस की टीम मंडे की सुबह 9 बजे Banda Police Line से रवाना हुई। मंगलवार दोपहर तमाम औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद के बाद Mukhtar Ansari को UP Police के सुपुर्द कर दिया गया।

मुख्तार को एंबुलेंस में बैठाने के बाद UP Police का काफिला रवाना हुआ। पंजाब से हरियाणा प्रांत होते हुए काफिला मंगलवार शाम को Uttar Pradesh में Entry किया। 11 जनपदों से होते हुए 890 किलोमीटर की लंबी दूरी तय कर करने के बाद काफिला बुधवार सुबह 4.30 बजे बांदा जेल पहुंचा। रास्ते में एक जगह ईंधन भरवाने और दूसरी जगह पर ड्राइवरों की शिफ्टिंग के लिए ही यह कापिला कुछ पलों के लिए रुका था।  


Mukhtar Ansari का ब्लड प्रेशर बढ़ा

बताया जा रहा है कि Uttar Pradesh लाने के दौरान बाहुबली माफिया डॉन काफी तनाव में और परेशान नजर आया। बांदा जेल पहुंचते ही चिकित्सकों की टीम ने उसका मेडिकल परीक्षण किया। मेडिकल परीक्षण में उसका ब्लड प्रेशर (BP) बढ़ा मिला। मेडिकल परीक्षण के बाद उसे जेल की 15 नंबर बैरक में शिफ्ट कर दिया गया। गौरतलब है कि मुख्तार पहले भी बांदा जेल की 15 नंबर बैरक में रह चुका है। लेकिन तब और अब में काफी अंतर आ चुका है। मुख्तार को अब CCTV कैमरों की निगरानी में रखा जाएगा। उसकी बैरक तक में कैमरों की व्यवस्था की गई है। ताकि उसकी हर गतिविधियों पर निगाहबनी की जा सके।

Banda Jail की सुरक्षा त्रिस्तरीय

मुख्तार अंसारी बांदा जिला कारागार में पहुंच चुका है। मुख्तार की मौजूदगी के बाद बांदा जेल की सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है। जेल अधीक्षक P.K Tripathi के मुताबिक जेल की सुरक्षा त्रिस्तरीय की गई है। जेल गेट पर पुलिस चौकी भी खोली गई है। साथ ही PAC के जवानों को भी तैनात किया गया है। 32 CCTV कैमरा लगाने के बाद कंट्रोल रूम को जिला प्रशासन के कंट्रोल रूम से सीधे कनेक्ट किया गया है।  


Mukhtar Ansari पर दर्ज हैं 52 मुकदमें

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी पर 52 मुकदमें दर्ज हैं। उस पर NSA और Gangster Act की कार्रवाई पुलिस कई बार कर चुकी है। पिछले दो साल से मुख्तार पंजाब की रोपड़ जेल में बंद था। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों ही उसे यूपी पुलिस को सुपुर्द करने का आदेश पंजाब सरकार को दिया था।हालांकि मुख्तार के बड़े भाई और सांसद अफजाल अंसारी का कहना है कि मुख्तार सभी मुकदमों में बरी हो चुका है। उसके खिलाफ सिर्फ 15 मुकदमें ही लंबित हैं।

वर्ष 90 में अपराध की दुनिया में रखा कदम

बाहुबली विधायक और माफिया डॉन Mukhtar Ansari ने वर्ष 90 में अपराध की दुनिया में कदम रखा था। प्रापर्टी डीलिंग के साथ-साथ उसने रेलवे के ठेकों को हथियाने का काम शुरु किया और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। 2005 में BJP विधायक कृष्णानंद राय समेत 7 लोगों की दिनददहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। इल्जाम मुख्तार अंसारी पर लगा था लेकिन कोर्ट से वह इस मुकदमें में बरी हो गया। 

पिछले करीब 15 साल से मुख्तार जेल में ही बंद है। जेल में रहकर वह चुनाव लड़ता है और जीत भी जाता है। वर्ष 1996 में मुख्तार ने राजनीति में एंट्री ली। वह सपा और बसपा दोनों दलों का दामन थाम चुका है। बसपा के टिकट पर वह 2009 में बीजेपी के दिग्गज नेता मुरली मनोहर जोशी के खिलाफ भी चुनाव लड़ा लेकिन हार गया। मुख्तार लगातार पांच बार से विधायक है। उसने अपना राजनीतिक दल कौमी एकता भी खड़ा किया लेकिन चुनाव से पहले उसने बसपा में इसका विलय कर दिया।  

-पंजाब की रोपड़ जेल से हाई सिक्योरिटी में लाया जा रहा है बाहुबली

-ADG प्रेम प्रकाश की अगुवाई में मुख्तार अंसारी को ला रही है पुलिस टीम

-10 गाड़ियों के काफिले में सवार हैं 150 से अधिक पुलिस कर्मचारी

-मंगलवार शाम को काफिला यूपी के अलीगढ़ में प्रवेश किया

-Mid-Night बांदा जेल पहुंचेगा बाहुबली मुख्तार अंसारी

 


Yogesh Tripathi

 

Uttar Pradesh का बाहुबली विधायक (MLA) Mukhtar Ansari की एंट्री प्रदेश में हो चुकी है। शाम को मुख्तार अंसारी को लेकर पुलिस का काफिला UP के अलीगढ़ में प्रवेश कर गया। इससे पहले मंगलवार दोपहर पंजाब जेल से उसे UP Police के सुपुर्द कर दिया गया। Mukhtar Ansari को पुलिस काफिले के बीच चल रही एंबुलेंस में बैठाकर लाया जा रहा है। एंबुलेंस के आगे और पीछे Police Team की 10 गाड़ियां चल रही हैं। इसमें करीब 150 पुलिस कर्मी सवार हैं। काफिले के आसास वज्र वाहन भी हैं। मुख्तार के रात्रि करीब 1 से 2 बजे तक Banda जेल पहुंचने की उम्मींद जताई जा रही है।  

 


Hariyana के सोनीपत से ईस्‍टर्न पेरीफेरल एक्‍सप्रेस-वे के रास्ते UP के बागपत में Police Team ने मुख्तार को लेकर एंट्री की। Uttar Pradesh के बॉर्डर पर पहले से ही काफी पुलिस बल की तैनाती की गई थी। पुलिस का काफिला गाजियाबाद-नोएडा की ओर रवाना हो गया। 

इस दौरान पुलिस का काफिला ग्रेटर नोएडा में करीब 20 मिनट तक यमुना एक्सप्रेस-वे पर जेवर में रुका भी। वाहनों में ईंधन भरवाने के बाद काफिला जेवर टोल प्लाजा पार कर मथुरा के लिए रवाना हो गया। 

 


काफिले में आगे-पीछे चल रहे पुलिस के वाहन किसी भी प्राइवेट को मुख्तार की एंबुलेंस के नजदीक नहीं फटकने दे रहे हैं। प्रदेश में प्रवेश करते ही UP Police की कई और गाड़ियां भी काफिले में जुड़ गईं। अपर मुख्‍य सचिव अवनीश अवस्‍थी और DGP हितेश अवस्‍थी ने आदेश दिया है कि मुख्‍तार अंसारी को लेकर आ रहा UP Police का काफिला जिस-जिस जिले से गुजरेगा, उस-उस जिले की पुलिस काफिले को एस्‍कोर्ट करेगी।

120 Km. की स्पीड से चल रही हैं गाड़ियां

मुख्‍तार अंसारी को लेकर पंजाब के रोपड़ से यूपी आ रही गाड़िया 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आ रही हैं। मुख्‍तार के काफिले के साथ-साथ मीडिया भी चल रहा है लेकिन काफिले में शामिल गाड़ियों की रफ्तार इतनी ज्‍यादा है कि उनके साथ-साथ चलना मुश्किल हो रहा है।

 


हाई सिक्योरिटी में तब्दील Banda Jail

बाहुबली MLA मुख्तार अंसारी कुछ घंटे बाद UP के Bundelkhand स्थित बांदा जेल में शिफ्ट कर दिया जाएगा। इस दौरान उसके आने की आहट से जिला कारागार हाईसिक्योरिटी जोन में तब्दील कर दिया गया है। मुख्यालय के मंडल कारागार से 15 बंदी रक्षकों का कुछ घंटा पहले ही ट्रांसफर कर दिया गया। जेल परिसर में 32 CCTV कैमरों से निगरानी के आदेश जारी किए गए हैं। 

जेल परिसर और उसके आसपास का एरिया सर्विलांस जोन में तब्दील हो चुका है। बांदा जेल के जेलर P.K Tripathi की मांग पर IG ने कारागार में अतिरिक्त फोर्स की तैनाती बढ़ा दी है। फोर्स के साथ ही दूसरी जेलों से सिपाही यहां तैनात किए गए हैं। प्रयागराज की नैनी जेल से चार सिपाही दोपहर को पहुंचे।

-Delhi से Hamirpur जा रही थी प्राइवेट यात्री

-सुरीर थाना एरिया में सवारी बनकर बैठे बदमाशों ने की वारदात

-बस में सवार दो दर्जन यात्रियों से बदमाशों ने की लूटपाट

-पर्यटक नगरी में दुस्साहसिक वारदात के बाद मची खलबली

Yogesh Tripathi

Uttar Pradesh में अपराधियों का दुस्साहस दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। बेखौफ बदमाशों ने Mathura जनपद स्थित Yamuna Expressway पर फिल्मी स्टाइल में यात्री बस को कुछ पलों के लिए हाइजैक कर लिया और फिर लूट की दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देकर पुलिस को सीधी चुनौती दे दी। प्राइवेट यात्री बस Delhi से Hamirpur जा रही थी। बीच रास्ते में बदमाश सवारी बनकर बैठे थे। Expressway पर चलती बस में आधा दर्जन बदमाशों ने असलहे के बल पर लूटपाट शुरु कर दी। यात्रियों और कंडक्टर की पिटाई कर लाखों रुपए की नकदी, मोबाइल, ज्वैलरी लूट ली। सनसनीखेज वारदात की खबर मिलते ही अफसरों के माथे पर पसीना आ गया। कई थानों की फोर्स के साथ Police Officer’s मौका-ए-वारदात पर पहुंचे। 

 


चौहान ट्रैवेल्स की बस संख्या UP-75-BT-0131 को औरैया निवासी ड्राइवर रफीक दिल्ली से सवारियां बैठाकर Hamirpur के लिए निकला था। बस में करीब 24 यात्री बैठे थे। थाना सुरीर क्षेत्र में माइल स्टोन 88 के पास कुछ लोग खड़े दिखाई दिए। ड्राइवर ने सवारी के लालच में बस को रोक दी। सभी बदमाश बस में सवार हो गए। रात्रि 12.30 बजे बदमाशों ने चलती बस में असलहे निकाल लिए। 500 मीटर की दूरी पर बस को रुकवाने के बाद बदमाशों ने लूटपाट शुरु कर दी। 


बदमाशों ने एक-एक यात्री की तलाशी लेने के बाद नकदी, ज्वैलरी, कीमती मोबाइल समेत लाखों के कीमत का सामान लूट लिया। बदमाशों ने बस के परिचालक से 25 हजार रुपए की नगदी भी छीन ली। लूटपाट के बाद बदमाश फरार हो गए। वारदात के बाद ड्राइवर बस को लेकर मांट टोल पर पहुंचा और घटना की जानकारी दी। बस लूट की सूचना मिलते ही पुलिस महकमें में खलबली मच गई। कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस के अफसर मौका-ए-वारदात पर पहुंचे। इस घटना के बाद सोशल मीडिया यूपी सरकार और पुलिस को निशाना बनाकर विपक्षी दलों ने ताबड़तोड़ Tweet कर सूबे में जंगलराज होने की बात लिखनी शुरु कर दी। 

 


Mathura Police का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। करीब एक लाख साठ हजार की नकदी समेत कई कीमती सामान बदमाशों ने लूटा है। यात्रियों की तरफ से दी गई जानकारी के आधार पर बदमाशों की शिनाख्त कर उनकी धरपकड़ के लिए पुलिस की टीमें गठित की गई हैं। पुलिस का कहना है कि बस के चालक ने रुपयों के लालच में सवारी बनकर खड़े बदमाशों को बैठा लिया था। वहीं, वारदात के बाद मथुरा पुलिस की तरफ से की गई कार्रवाई को लेकर यात्रियों में काफी नाराजगी देखने को मिली।