Lok Sabha Election 2019 : Uttar Pradesh के बुन्देलखंड की राजनीति में घनश्याम अनुरागी का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है। खबरें आ रही हैं कि इस दिग्गज नेता और पूर्व सांसद का मन अब BSP के नीले रंग से ऊब चुका है। चर्चा है कि जल्द ही वे BJP का भगवा चोला ओढ़ सकते हैं। संडे की देर रात घनश्याम अनुरागी ने Kanpur स्थित होटल लैंडमार्क के कमरा नंबर 1405 में ठहरे Modi सरकार में Minister शिवप्रताप शुक्ला से मुलाकात भी की है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बीजेपी जल्द ही घनश्याम अनुरागी को पार्टी में शामिल कर जालौन में बड़ा “मास्टर स्ट्रोक” खेलने की तैयारी में है। हालांकि अंदरखाने की रिपोर्ट ये है कि वर्तमान सांसद समेत तीन विधायक उनके बीजेपी में शामिल होने को लेकर अंदर ही अंदर विरोधी भी दर्ज करा रहे हैं। www.redeyestimes.com (News Portal) के पास जो जानकारियां हैं उसके मुताबिक BJP के नेशनल प्रेसीडेंट अमित शाह के कानपुर दौरे से पहले का ये सिर्फ रिहर्सल है। अमित शाह Kanpur में करीब आधा दर्जन से अधिक दिग्गजों को भाजपा में शामिल कराने के लिए आ रहे हैं। इसमें कानपुर-बुन्देलखंड के कई बड़े नेताओं के नाम हैं जो कि दूसरे राजनीतिक दलों से ताल्लुक रखते हैं।


[caption id="attachment_18873" align="alignleft" width="150"] Dr.Rakesh Dwivedi[/caption]

Rakesh Dwivedi

पहले लोकसभा के टिकट को लेकर की दावेदारी


पूर्व सांसद और बसपा नेता घनश्याम अनुरागी ने बीजेपी से लोकसभा का टिकट पाने के लिए सारे जतन किए लेकिन सफलता नहीं मिली। सूत्रों की मानें तो अब वे बीजेपी ज्वाइन करने का मन बना चुके हैं। सांसद समेत तीनों विधायकों के विरोध के कारण भाजपा की उनको सदस्यता संभव नहीं मिल पा रही है । अनुरागी बिना शर्त के भाजपा के लिए काम करने को तैयार दिख रहे हैं। फिर भी उन्होने उम्मीदें नहीं छोड़ी हैं।

https://twitter.com/redeyestimes/status/1115705216719048704

मंत्री शिवप्रताप शुक्ला से होटल लैंडमार्क में मिले घनश्याम अनुरागी


घनश्याम अनुरागी ने होटल लैंडमार्क में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ल से मिलकर सदस्यता पाने के लिए प्रयास किया। घनश्याम को उम्मींद है कि पूर्व सांसद जैसे ओहदे के बलबूते चुनाव तक भाजपा उनको “अपना” बना लेगी।  पूर्व सांसद अनुरागी को राजनीति का बड़ा तेज और शातिर “खिलाड़ी” माना जाता है। हालांकि  उनके कई दांव उनकी रणनीति को सफलता नहीं दिला पाये हैं, जिसकी वजह से वे परेशान हैं। सूत्रों की मानें तो घनश्याम अनुरागी अभी तक अपने पत्ते नहीं खोल रहे थे । भाजपा नेताओं के संपर्क में रहने के बावजूद उन्होने अभी तक बीएसपी से इस्तीफा नहीं दिया है। वह बसपा छोड़ भाजपा में शामिल होना चाहते हैं लेकिन खुद अभी तक नही बता रहे थे जबकि जिला भर को यह पता चल चुका है कि वह बसपा से टिकट न मिलने पर भाजपा के संपर्क में हैं।

[caption id="attachment_19262" align="aligncenter" width="596"] होटल लैंडमार्क के कमरा नंबर 1405 में केंद्रीय राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला से बातचीत करते घनश्याम अनुरागी।[/caption]

पुखरायां के BJP लीडर के साथ केंद्रीय मंत्री से मिलने पहुंचे अनुरागी


पुखरायां के बीजेपी नेता राजेश तिवारी के साथ संडे की रात को वह कानपुर के होटल लैंडमार्क स्थित कमरा नंबर 1405 में केन्द्रीय वित्त राज्य मन्त्री शिव प्रताप शुक्ल के पास इसी इरादे से मिलने पहुँचे कि भाजपा उन्हें भी सम्मानपूर्वक अपना ले । मन्त्री शिव प्रताप शुक्ला ने इस दौरान अपने एक सहयोगी से प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पाण्डेय से इस सम्बन्ध में फोन भी मिलवाया पर उनसे बातचीत नहीं हो पाई।

इसके बाद अनुरागी की बन्द कमरे में काफी देर तक चर्चा हुई। मन्त्री शिव प्रताप शुक्ला से मिलने के बाद अनुरागी इतने उत्सुक हुए कि अपने मोबाइल से वह फोटो खीचने लगे। अनुरागी ने इस दौरान मन्त्री को हमीरपुर और जालौन की चुनावी तस्वीर बताकर कमजोरियों को रखा। यह भी बताया कि चौधरी बिरादरी का वोट कांग्रेस के ब्रजलाल खाबरी को मिल सकता है। अनुरागी का कहना है कि चुनाव में वह भाजपा के लिये काम करके बसपा को हराने की कोशिश करेंगे।


 

 

 
Axact

Axact

Vestibulum bibendum felis sit amet dolor auctor molestie. In dignissim eget nibh id dapibus. Fusce et suscipit orci. Aliquam sit amet urna lorem. Duis eu imperdiet nunc, non imperdiet libero.

Post A Comment:

1 comments:

  1. Hey,
    lately I have finished preparing my ultimate tutorial:

    +++ [Beginner’s Guide] How To Make A Website From Scratch +++

    I would really apprecaite your feedback, so I can improve my craft.

    Link: https://janzac.com/how-to-make-a-website/

    If you know someone who may benefit from reading it, I would be really grateful for sharing a link.

    Much love from Poland!
    Cheers

    जवाब देंहटाएं